40 psychological facts related to love | प्यार से जुड़े 40 मनोवैज्ञानिक फैक्ट

 

40 psychological facts related to love | प्यार से जुड़े 40  मनोवैज्ञानिक फैक्ट

40 psychological facts related to love | प्यार से जुड़े 40  मनोवैज्ञानिक फैक्ट 

 

प्यार में कौन कैसे पड़ जाएं यह कहना मुश्किल है. प्यार करने वाले इसे शानदार अनुभव मानते है. कुछ इसे गम का पहाड़ भी मानते हैं. प्यार करने वाला इंसान पूरी तरह से बदल जाता है. वह क्रिएटिव हो सकता है या क्रिमनल बन सकता है. प्यार में पड़ कर कोई खुशी से मालामाल हो जाता है तो खून के आंसू रोता है. 

इस पोस्ट में हम प्यार से जुड़े ऐसे 40 मनोवैज्ञानिक फैक्ट के बारे में जानकारी देने जा रहे जिनके बारे में अधिकतर लोगों को नहीं पता है. पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें. पसंद आने पर लाइक व शेयर करें. 

प्यार, इश्क, मोहब्बत, लव से जुड़े 40 इंटरेस्टिंग फैक्ट्स 40 interesting facts related to love, love, love, love

40 प्यार के बारे में मनोवैज्ञानिक तथ्य 40 psychological facts about love

1 मनोवैज्ञानिकों के अनुसार प्यार को जितना छिपाने की कोशिश की जाती है. उतनी ही वह सामने आ जाती है.

2 प्यार के इजहार के मामलों में देखा गया है कि 90 परसेंट पुरूष ही स्त्री के सामने प्यार का इजहार करते हैं. सिर्फ 10 स्त्री ही पुरूषों के सामने अपने प्यार का इजहार करती है.

3 मनोवैज्ञानिक प्यार में पड़ना को जैविक प्रक्रिया मानते है. इस प्रक्रिया हर किसी के शरीर में उत्पन्न तो होती है, पर उसे कुछ ही लोग अच्छे से बनाएं नहीं रख पाते हैं. 

4 प्यार की वजह से शरीर के हार्मोन में एक तरह की गड़बड़ी हो जाती है. जैसे कुछ हार्मोन का ़ घट जाना या बढ़ जाना. जिसकी वजह से प्यार में पड़ा पुरूष जुनूनी हो जाता है.

5  हेल्थ एण्ड ह्यूमन सर्विसेज की एक रिर्पोट के अनुसार, प्यार में पड़ने पर स्त्री और पुरूष के शरीर और दिमाग पर काफी अच्छा प्रभाव पड़ता है. जिससे उनकी उम्र कुछ साल बढ़ जाती है. 

इन्हें भी  पढ़ें

प्यार के बारे में मनोवैज्ञानिक तथ्य Psychological facts about love

6 प्यार पर किए गए एक शोध के अनुसार, प्यार में पड़े इंसान का दिमाग नशा करने वाले इंसान की तरह काम करने लगता है. इससे उसे परमसुख की अनुभूति होती है.ं 

7 किसी के प्यार में पड़ जाना मनोवैज्ञानिक इसे मनोरोग कहते हैं. इस रोमांटिक रिलेशनशीप को ओब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर कहा जाता है. 

8 एक लंबे शोध में पता चला है कि नंवबर माह में सबसे ज्यादा पुरूष अपनी पसंद की स्त्री से आई लव यू कहते हैं. 

9 मनोवैज्ञानिकों का कहना है, स्त्री व पुरूष एक में प्यार होने में लंबा समय नहीं सिर्फ चार मिनट का समय लगता है. बस इतने से समय में वे एक दूसरे पर जान छिड़कने लगते हैं.

10 वैज्ञानिकों के अनुसार, किसी से किसी को प्यार उसके रंग, रूप या बाॅडी स्ट्रेक्चर देख कर नहीं होता है. इसलिए कहा जाता है प्यार दिल से होता है.

इन्हें भी  पढ़ें –

प्यार के बारे में शारीरिक तथ्य Body facts about love

11 जब कोई प्यार में पड़ जाता है. उसका दिमाग काफी अच्छी तरह काम करता है. उसे दुनियादारी की काफी समझ आ जाती है. वह अधिक सोशल बन जाता है, लोगों की मदद करने लगता है. हर बूरे काम से तौबा कर लेता है. लोगों को अच्छी सलाह देने लगता है. उसकी भागवान में आस्था बढ़ जाती है. 

12 प्यार करने पर दिमाग में रोमांटिक मूड पैदा होता है. जो व्यक्ति को शान्त, खुशमिजाज और एनर्जेटिक बन जाते है.  

14 प्यार के इजहार के लिए दुनियाभर में I LOVE YOU सबसे अधिक कहा जाने वाला वाक्य है. 

15  यह जानकर आपको हैरानी होगी कि सिर्फ इंसान ही नहीं जानवर और पक्षी भी लव का इजहार करते हैं. ऐसे कुछ जानवर और पक्षी है जो अपने लिये किसी एक को लाइफटाइम के लिये पार्टनर चुनते हैं. उसके बिछुड़ने पर तड़प-तड़प कर जान देते हैं या उसकी याद में जिंदगी गुजार देते हैं. दोबार जोडा नहीं बनाते हैं.

लड़के और लड़कियों के बारे में मनोवैज्ञानिक तथ्य Psychological facts about boys and girls

16 जानवरों व पक्षियों में जोड़े बनाने यानी प्यार का इजहार नर द्वारा किया जाता है. वह मादा के सामने नाच कर या बल प्रदर्शन कर अपने प्यार का इजहार करता है. अधिकतर जोड़े नंवबर माह में बनाएं जाते हैं. 

17 जब आप किसी के साथ चलते हैं. उस वक्त नार्मल स्पीड से चलते हैं. जबकि पे्रमी-प्रमिका हमेशा धीमी गति से चलते हैं. इसका मतलब कह सकते वे ज्यादा से ज्यादा एक-दूसरे के साथ गुजारना पसंद करते हैं.

18 लड़के द्वारा किसी लड़की के प्यार में पड़ने पर उसके कम से कम दो दोस्त उससे दूर हो जाते हैं. ऐसा क्यों होता है, इस बारे में वैाानिक स्पष्ट नतीजे पर पहुंच नहीं पाएं है.

19 एक रिर्पोट के अनुसार, ऑनलाइन प्यार में पड़ने वालों में से 23 प्रतिशत आगे चल कर शादी कर लेते हैं. 10 प्रतिशत अपना मतलब निकालने के लिए लगे रहते हैं. अन्य सिर्फ टाइमपास करते हैं.  

20 एक जानकारी के अनुसार, 18 से 22 वर्ष की उम्र युवा प्यार में अधिक पड़ते हैं. इस उम्र में ब्रेकअप के मामले भी अधिक देखे गए है. 22 से 28 साल वाले काफी सर्तक होकर प्यार की ओर कदम बढ़ाते हैं. 28 के बाद कम ही युवा प्यार के बारे में सोचते हैं. समझा जाता है तब तक उन्हें दुनियादारी की समझ आ जाती है. 

इन्हें भी  पढ़ें –

प्रेम और आकर्षण के बारे में मनोवैज्ञानिक तथ्यं Psychological facts about love and attraction

21 वैज्ञानिको का मानना है, सही उम्र में किया गया प्यार लंबे समय तक खत्म नहीं होता. कच्ची उम्र का प्यार अधिक दिनों तक नहीं चलता. मनोवैज्ञानिक कच्ची उम्र के प्यार को प्यार नहीं आकर्षण यानी अट्रैक्शन मानते हैं.  

22 मानो या ना मानों मनोवैज्ञानिक का मानना है, दो विपरित लिंगी यदि  एक-दूसरे की आंखें में लगाता झांकते रहे तो उनमें प्यार हो सकता है. यह प्यार लंबे समय तक चलता है. पर ऐसे मामले कम ही देखे गए है क्योंकि स्त्री इसके लिए जल्दी तैयार नहीं होती कोई उसकी आंखों में झाकें या खुद किसी की आंखों में झाकें.  

23 वैज्ञानिकों द्वारा किये गए एक शोध में पता चला है कि प्यार में पड़ा इंसान अपने काम के प्रति लापरवाह हो जाता है. कहने का मतलब है, काम में उसका मन नहीं लगता है. वह आलसी भी हो जाता है. अपने काम से जी चुराने लगता है. 

24 वैज्ञानिक मानते हैं, मूर्ख से मूर्ख व्यक्ति भी प्यार में पड़ सकते है. प्यार के मामले में वे बड़े भाग्यशाली होते हैं. क्योंकि उन्हें प्यार करने वाली काफी समझदार होती है. आपको हूर के हाथ लंगूर वाली कहावत समझ में आ गई होगी.   

25 प्यार के बारे में ऐसी जानकारी  मिलती है कि पुराने जमाने में इंसान के पसीने से एक जरह का इत्र बनाया जाता था जो प्रेम करने के लिए आकर्षण का काम करता था. जिसे बड़े लोगों को काफी महंगे दामों में बेचा जाता था.

इन्हें भी  पढ़ें –

प्रेम व्यवहार के बारे में मनोवैज्ञानिक तथ्यों Psychological facts about love behavior

26 प्यार और सेक्स को लेकर दिमाग अलग-अलग तरीके से सोचता है. प्यार के बारे में सोचने वाले शान्त होते हैं. जबकि सेक्स की सोचने वाले आक्रामक हो जाते हैं. तब वे प्यार पाने की नहीं पकड़ने की तैयारी में रहते हैं. 

27 अच्छे से  सेटल लोगों की बजाएं स्ट्रगल करने वाले जैसे जाॅब की तलाश, कैरियर के स्ट्रगल में लगे, घर से दूर रहने वाले या फिर जिनका कोई सही ठिकाना ना ऐसे लोग जल्दी प्यार में पड़ जाते हैं. मजे की बात यह है कि इन्हें पसंद करने वाली लड़की भी मिल जती है.

28 इसके ठीक विपरित सैटल, पढ़ी लिखी, अच्छी जाॅब करने वाली स्त्री जल्दी से किसी स्ट्रगल करने वाले पुरूष के प्यार में पड़ जाती है. 

29 सामान्य परिस्थिति में मिलने की बजाए. खतरे या मुसिबत से बचाने वाले से प्यार होने के चांस अधिक होते हैं. ऐसे रिश्ते मजबूत होते देखे गए है. यह भी सच है. लड़की को प्रभावित करने के लिए झूठा ड्रामा कर लड़की की अस्मित को लुट लेते हैं.

30 जब आप किसी को प्यार की नज़र से देखते हैं. उस वक्त आंखों की पुतली फेल जाती है. 

इन्हें भी  पढ़ें –

लड़कियों के बारे में मनोविज्ञान Psychology about girls

31 शोध में पता चला है कि कुछ खास कलर की ड्रेस प्यार करने के लिए आकर्षित करती है.  

32 प्यार किसी भी इंसान के जीवन में काफी महत्तवपूर्ण होता है. हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में लंबे समय तक किये गए अध्ययन में पता चला है सफल और असफल प्यार इंसान की जिंदगी बना सकता है बिगाड़ भी सकता है.  

33 जिन्हें प्यार नहीं मिलता है. वे तन्हा और अकेलापन अधिक महसूस करते हैं. वे अवसाद जैसी समस्या से ग्रस्त्र हो जाते हैं. जल्दी पागल हो जते हैं या ह्रदयघात के की वजह से उनकी मृत्यु हो जाती हैं. 

34 दो प्यार करने वालों की पसंद और नापसंद एक जैसी होती है. ना भी होने पर दोनों जल्दी ही एक दूसरे की पसंद नापसंद को अपना लेते हैं.

35 आपने जरूर सुना होगा प्यार अंधा होता है. वैज्ञानिकों के अनुसार यह सच है, दो प्यार करने वालों को प्यार के सिवा कुछ नहीं दिखाई देता.

इन्हें भी  पढ़ें –

औरतों के बारे में रोचक तथ्य Interesting facts about women

36 वैज्ञानिकों के अनुसार, लड़का जब प्यार करता है वह दिमाग से करता है. लड़की जब प्यार करतर है. वह दिल से करती है. इसलिए वह अपने प्यार के लिए सबकुछ छोड़ने के लिए तैयार हो जाती है. 

37 दो प्यार करने वाले अकेले में एक दूसरे की दी हुई चीज के साथ बातें करते हैं. जैसे फोटो, रूमाल, कोई गिफ्ट आदि के साथ घंटों बातें करते हैं.   

38 प्यार में ब्रेकअप होने के बाद लड़के या लड़की दोनों को आहत पहुंता है. लड़की बहुत ही जल्द इससे उबर जाती है. जबकि लड़के जल्दी इससे निकल नहीं पाते हैं. 

39 लड़की अपने पहले प्यार को भूल नहीं पाती. वह इसे किसी के सामने प्रकाश नहीं करती. जबकि लड़के किसी दूसरी लड़की के प्यार में पड़ जाने के बाद इसे भूल जाते हैं. 

इन्हें भी  पढ़ें –

लव दिलचस्प बातें Love interesting things

40 प्यार हंमेशा सुखद हो ऐसा नहीं है यह हंसाता भी है रूलाता भी है. प्यार मिल गया तो सुखद वर्ना दुखद. प्यार क्रिएटिव बनता है तो क्रिमनल भी. 

दोस्तों, प्यार के मनोवैज्ञानिक तथ्य  आपको कैसा लगा. इनमें से आपने किस तथ्य को महसूस किया कमेंट बाक्स में जरूर लिखें. प्यार के बारे में आपके पास कोई जानकारी होने पर जरूर शेयर करें.  

इस वेबसाइट पर भी विजिट करें – Business Maantra

फ्रेंड्स, 40 psychological facts related to love | प्यार से जुड़े 40  मनोवैज्ञानिक फैक्ट - आर्टिकल आपको जरूर पसंद आया होगा। आर्टिकल पसंद आने पर इंतजार ना करें, कॉपी करें और जल्दी से अपने फ्रेंड्स या पार्टनर को शेयर करें। FacebooklinkedinTwitterpinterestTumblr, Skype, Instragram, WhatsApp शेयर करें। धन्यवाद