Coronavirus Status India Hindi

coronavirus status india hindi, coronavirus, coronavirus india, coronavirus in India, Covid-19, Coronavirus India Updates, coronavirus india hindi, coronavirus status, coronavirus india hindi, status guru hindi
Coronavirus Status India Hindi

कोरोनावायरस Coronavirus ने इस वक्त पूरी दुनिया में कोहराम मचा रखा है. चीन के वुहान शहर में कोरोनावायरस का पता दिसबंर 2019 को पता चला, जनवरी 2020 तक चीन को तेजी से अपनी चपेट में लेने लगा. यहीं नहीं देखते ही देखते कई देश इसकी चपेट में आ गए. आज दुनिया के लगभग सभी देश कोरोनावायरस की चपेट में आ चुके हैं. 
पूरी दुनिया में 6 लाख से अधिक लोगा करोनावायरस की चपेट में आ चूके थे. अब तक 14 हजार लोग करोनावायरस का शिकार होकर काल के गाल में समा गए थे. ंकहा जा रहा है चीन करोनावायरस को लेकर बहुत सारी बरतें छिपा रहा है. यहां तक कि करोनावायरस हुए मौत के सही आकड़ों को दुनिया के सामने पेश नहीं किया है. जिसके चलते सारी दुनिया में दहशत फैला हुआ है. 

करोनावायरस से दुनिया में बिगड़ती हालात को देखते हुए डब्लूएचओ WHO ने 11 मार्च को इसे महामारी Epidemic घोषित कर कई तरह के निर्देश जारी किए.

डब्लूएचओ WHO के अनुसार, करोनावायरस का सबसे बड़ा इलाज है. लोगों को इसके कांटेक्ट में आने से बचना. लोग इस बात का यदि कड़ाई से पालन नहीं करते हैं तो इसका परिणाम मनुष्य जाति को भुगतना होगा.

करोनावायरस लोगों के कांटेक्ट में आकर जिस तेजी से फैल रहा है. उसके समझने के लिए आप आकड़े देख सकते हैं



इटली में कोरोना से पीड़ितों संख्या - Number of victims from Corona in Italy -
सप्ताह - मरीज की संख्या
1 सप्ताह - 03
2 सप्ताह - 152
3  सप्ताह- 1036
4 सप्ताह - 6362
5 सप्ताह - 63927

ईरान में कोरोना से पीड़ितों संख्या - Number of victims from Corona in Iran 
1 सप्ताह - 02
2  सप्ताह- 43
3 सप्ताह - 245
4 सप्ताह - 4747
5 सप्ताह- 24811

भारत में कोरोना से पीड़ितों संख्या - Number of victims of corona in India 
1 सप्ताह - 03
2 सप्ताह - 24
3 सप्ताह - 519 मार्च 23 तक जिसमें 10 की मृत्यु हो चुकी थी.

. कोरोना का चक्र Corona circle
चीन के वुहान शहर में कोरोनावायरस का 1 दिसबंर 2019 को पता चला, इस बीच 8-18 दिसंबर तक 7 मरीज देखने को मिलें. 24 दिसंबर को चीन सरकार द्वारा सार्वजनिक रूप से पहले कोरानावायरस से पीड़ित के बारे में घोषणा की गई.

इन्हें भी जरूर पढ़ें – Life Truth Quotes In Hindi | Status Guru Hindi 

अगले ही दिन वुहान शहर के दो अस्पताल के मेडिकल स्टाप के लोगों को करोनावायरस से सक्रंमित होने का समाचार सामने आया. 30 दिसंबर तक पूरे वुहान शहर में लोक डाउन कर दिया गया. इस बीच कई देशों में कोरोनावायरस के मरीज की बात सामने आने लगी थी.

coronavirus status india hindi, coronavirus, coronavirus india, coronavirus in India, Covid-19, Coronavirus India Updates, coronavirus india hindi, coronavirus status, coronavirus india hindi, status guru hindi


 कोरोनावायरस को लेकर कई तरह के सवाल Several types of questions about coronavirus

  • यह बात सोशल मीडिया में बड़ी तेजी से फैल रही है कि अदरक, शहद, नींबू, लौंग आदि का सेवन कोरोनावायरस से बचा सकता है


डब्लूएचओ WHO के अनुसार, यह नहीं कहा जा सकता है कि अदरक, शहद, नींबू, लौंग आदि का सेवन कोरोनावायरस से बचाव करता है. हां इतना जरूर है कि इन सब खाद्य पदार्थ में एंटीऑक्सीडेंट जरूर माने जाते हैं लेकिन इनका सेवन करने से कोरोनावायरस से निजात मिल जाएगी. ऐसा कोई सबूत अभी तक नहीं मिला है.


  •  पॉल्ट्री उत्पाद और मांस भी सुरक्षित नहीं

अभी तक यह माना जा रहा है कि कोरोनावायरस की उत्पत्ति किसी जानवर से मनुष्य में हुई होगी. वैज्ञानिकों द्वारा अब तक किए गए शोध के अनुसार, चमदागड़ या कोबरा के मांस खाने से यह वायरस मनुष्य में आया होगा. इसके बावजूद वैज्ञानिकों अभी तक पूरी तरह से दावा नहीं करते है.

जहां तक सुरक्षा की दृष्टि से देखा जाएं तो कोरोनावायरस को बढ़नेसे रोकने के लिए पॉल्ट्री उत्पाद और मांस का ना इस्तेमाल करना ही उचित होगा.

अब तक मिलें शोध रिपोर्ट के अनुसार, कोरोनावायरस मनुष्य को एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति के नजदीक आने से संक्रमित कर रहा है तेजी से फैलता है. इसके लिए सबसे जरूरी है. सामाजिक दूरी बनाएं रखना.


coronavirus status india hindi, coronavirus, coronavirus india, coronavirus in India, Covid-19, Coronavirus India Updates, coronavirus india hindi, coronavirus status, coronavirus india hindi, status guru hindi



  • डिब्बाबंद खाना क्या नुकसानदायक

डब्ल्यूएच WHO ओ के अनुसार, डिब्बाबंद खाना सीधे तौर पर नुकसानदायक नहीं है. किसी भी तरह के कमर्शियल सामान को मानव रूारीर को संक्रमित करने की संभावना काफी कम होती है.

यह सामान विभिन्न स्थितियों और तापमान को झेलते हुए लंबी यात्रा कर इधर से उधर पहुंचते हैं. ऐसे में किसी पैक सामान में कोरानावायरस के होने का जोखिम काफी कम होता है. कैरी करते समय ग्लब्ज यानी दस्ताने का उपयोग करना जरूरी है.

  • क्या पालतू पशुओं से भी कोरोनावायरस फैलने का खतरा है?

डब्लूएचओ के अनुसार, इस बारे में अभी तक कोई परिणाम नहीं मिला है. जिससे यह कहा जाए कि पालतू जानवरों से भी कोरोनावायरस फैलता है. जानकारी के अनुसार, यह केवल मनुष्यों से मनुष्यों में फैल रहा है.

  •  क्या कोरोनावायरस धातुओं पर लंबे समय तक जीवित रहता है?

शोध में पता चला है, करोनावायरस धातु के सम्पर्क में आकर यह लगभग 8 से 10 घंटे तक यह वायरस जीवित रहता है.

अन्य सम्पर्क में यह वायरस सामान्य तौर पर यह 3 से 4 घंटे तक ही जीवित रहता है. लेकिन अभी तक इस बात का पूरी तरह से कोई प्रमाण नहीं है.




  • तापमान बढ़ने से कोरोना वायरस का असर खत्म हो जाएगा? 

यह सवाल भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है कि तापमान से करोनावायरस  का असर खत्म हो जाएगा. इस बारे में विशेषज्ञों का कहना है कि फिलहाल ऐसा कुछ नहीं कहा जा सकता. क्योंकि गरम देशों में भी कोरोनावायरस के मरीज पाएं गए है. हां यह जरूर है, ठंड जलवायु में कोरोनावायरस तेजी से बढ़ता है.


  • सैनिटाइजर या साबुन से हाथ धोने से लोग पूरी तरह से कोरोनावायरस से सुरक्षित है? 

कोरोनावायरस को फैलने से रोकने के लिए हाथों को स्वच्छ रखना जरूरी है. हाथों के लिए स्वच्छ रखने के लिए सैनिजाइजर साबुन का इस्तेमाल करना.


  • हाथों का स्वक्ष्छ रखना क्यों जरूरी है? 

देखा गया है, कोरोनावायरस हाथों के कांटेक्ट में आने के बाद यह शरीर में प्रवेश नहीं कर पता है. जब तक हाथ मुंह या आंखों के सम्पर्क में ना आएं. इसके लिए जबसे जरूरी हो जाता है. हाथों को अच्छे से साफ करना. 

सैनिजाइजर केमिकल्स युक्त होते हैं. इसका बहुत अधिक बार इस्तेमाल करने पर स्किन के लिए नुकसानदायक हो सकता है. स्किन पर दानें या एलर्जी दिखाई दें सकते है. इसलिए सैनिजाइजर केमिकल्स बार-बार इस्तेमाल करने की बजाए. साबुन का इस्तेमाल सही रहेगा.

इन्हें भी जरूर पढ़ें – Relationship In Hindi | रिश्तों की बातें | Status Guru Hindi

साबुन से भी होथों को कम से कम 20 सेकेंड तक अच्छे से साफ करना है. ऐसे में किसी भी तरह से हाथों के कांटेक्ट में आएं. कोरोनावायरस खत्म हो जाएं.

  • अल्कोहल के सेवन से कोरोनावायरस खत्म हो जाएगा?

अल्कोहल के सेवन से कोरोनावायरस खत्म हो जाता है. ऐसी खबर को सोशल मीडिया द्वारा चायरल किया जा रहा है. जबकि यह बात सही नहीं है. डब्ल्यूएचओ के अनुसार, अभी तक किसी भी अनुसंधान में यह पता नहीं चला है कि अल्कोहल के सेवन से कोरोनावायरस का असी खत्म हो जाता है.

अल्कोहल पीने वालों को तो पीने का बहना चाहिए. जान लें, अल्कोहल के सेवन करने से कोरोनावायरस का असर खत्म नहीं होता. शराब शरीर के लिए नुकसानदायक होता है. इससे बचना चाहिए.

  • क्या कोरोनावायरस हवा से फैलता है? 

कोरोनावायरस हवा से फैलने वाला संक्रामक नहीं है. यह किसी संक्रमित व्यक्ति के  छींक या खांसी के दौरान निकलने वाली महीन बूंदों से फैलता है. हवा में एक मीटर तक कोरोनावायरस ट्रांसफर हो सकता है. इसलिए अगर संक्रमित व्यक्ति से बात करें है तो 1 मीटर की दूरी बनाकर रखना जरूरी है. इसके अलावा कोरोनावायरस हाथ मिलाने, गले लगान, एक साथ सोने, भीड़ में गुथम होने आदि की वजह से फैल सकता है.

डब्लूएचओ WHO के अनुसार, यदि कोई घर के बाहर निकल रहा है तो उसे मास्क व हैंड ग्लब्ज का उपयोग करना जरूरी नहीं है. जिन्हें सर्दी, जुकाम या खांसी है तो वे भी मास्क पहन कर रखें. ताकि कोरोनावायरस दूसरों तक ना पहुंच सके. घर परिवार में भी इस बात का ध्यान रखें. मास्क गंदा और नम होने पर उसे तुरंत हटा दें.

सर्जिकल और एन-95 मास्क का उपयोग कोरोनावायरस से बचने के लिए इस्तेमाल करना जरूरी है.

coronavirus status india hindi, coronavirus, coronavirus india, coronavirus in India, Covid-19, Coronavirus India Updates, coronavirus india hindi, coronavirus status, coronavirus india hindi, status guru hindi


कोरोनावायरस की भारत में स्थिति Status of Coronavirus in India

पूरी दुनिया में कोहराम मचाने वाले कोरोनावायरस ने भारत में दस्तक दे चुका है. 24 मार्च 2020 तक 519 मामलों की पुष्टि हो चुकी थी, जिनमें से 10 लोगों की कोरोनावायरस से मौत हो चुकी थी.

भारत में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को पूरे देश में 24 घंटे के लिए जनता कफ्र्यू लागू किया. 24 मार्च से अगले 21 दिनों यानी 14 बप्रैल तक के लिए पूरे देश के सभी शहर में लाॅकडाउन का फैसला किया.

इन्हें भी जरूर पढ़ें –Gulzar ki shayari love in hindi | Status Guru Hindi

जिस तेजी से कोरोनावायरस देश में फैल रहा था. पीएम मोदी को यह निर्णय लेना पड़ा. विशेषज्ञों के अनुसार, जिस तेजी से कोरोनावायरस देश में फैल रहा था, उसके संक्रमण चक्र को तोड़ने के लिये 21 के लिए लाॅकडाउन करना जरूरी हो गया था. पीएम मोदी का कहना था, इन 21 दिनों लोगों इसका कड़ाई से पालन नहीं किया तो देश 21 साल पीछे चला जायेगा.

coronavirus status india hindi, coronavirus, coronavirus india, coronavirus in India, Covid-19, Coronavirus India Updates, coronavirus india hindi, coronavirus status, coronavirus india hindi, status guru hindi


भारत में कोरोनावायरस के मामले Coronavirus cases in India
24 मार्च 2029 को स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा रिपोर्ट के अनुसार, कोरोनावायरस के संक्रमण के 519 मामलों की पुष्टि हो चुकी थी. इनमें से 476 भारतीय जबकि 43 विदेशी शामिल थे. रिर्पोट में सबसे अच्छी बात यह थी कि इनमें से एक विदेशी समेत 39 लोग डाक्टरी इलाज से स्वस्थ हो चुके हैं.  519 में मामलों में 43 विदेशी

कोरोनावायरस पीड़ित राज्यवार आंकड़ों के अनुसार, आंध्र प्रदेश में 7, बिहार में 4, छत्तीसगढ़ में 1, चंडीगढ़ में 6, दिल्ली में 29, गुजरात में 35, हरियाणा में 30, हिमाचल प्रदेश में 2, जम्मू-कश्मीर में 7, कर्नाटक में 41, केरल में 105, लद्दाख में 13, मध्य प्रदेश में 9, महाराष्ट्र में 107, मणिपुर में 1, ओडिशा में 2, पुदुचेरी में 1, पंजाब में 29, राजस्थान में 32, तमिलनाडु में 18, तेलंगाना में 39, उत्तर प्रदेश में 35,उत्तराखंड में 5 और पश्चिम बंगाल में 9 केस सामने आए हैं

जबकि इस विश्वव्यापी कोरोनावायरस महामारी से भारत में अब तक 10 लोगों की मृत्यु हो चुकी थी. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा 23 मार्च 2020 की शाम 5.45 बजे के अपडेट के अनुसार, देश में कोरोनावायरस  यानी कोविड-19 के 470 सक्रिय मामले थे.

coronavirus status india hindi, coronavirus, coronavirus india, coronavirus in India, Covid-19, Coronavirus India Updates, coronavirus india hindi, coronavirus status, coronavirus india hindi, status guru hindi


कोरोनावायरस के प्रभावित लक्षण Symptoms affected by coronavirus

कोरोनावायरस -2019 एक खतरनाक वायरस है. कोरोनावायरस -2019 के लक्षण शुरू-शुरू में बिजकुल भी नहीं दिखाई देते हैं. अचानक ही इसके लक्षण प्रगट होते हैं.

शुरुआती संकेत के रूप में सर्दी, खांसी या जुकाम हो सकता है. इसमें सांस लेने में थोड़ी दिक्कत होने लगती है. इस बीमारी की खास बात यह है कि हर किसी को कोरोनावायरस नुकसानदेह नहीं होता.



जिस व्यक्ति के शरीर का इम्युनीटी सिस्टम अच्छा है. वह यदि कोरोनावायरस की चपेट में आता है, तीन दिन से लेकर सात दिनों के अंदर ठीक हो सकता है.

बच्चे, बूढ़ें, महिलाएं कोरोनावायरस की चपेट में आने के बाद इन्हें तकलीफ बढ़ सकती है. बीमारी बढ़ जाने पर रोगी को सांस लेने में दिक्कत होने लगती है. यह वायरस फेफड़ों को गंभीर रुप से खराब कर देता है. जल्दी से इलाज ना मिलने पर जानलेवा साबिज हो सकती है. सुरक्षा को ध्यान दिए बिना रोगी की सेवा करने वाला भी इसका शिकार हो सकता है.

coronavirus status india hindi, coronavirus, coronavirus india, coronavirus in India, Covid-19, Coronavirus India Updates, coronavirus india hindi, coronavirus status, coronavirus india hindi, status guru hindi


क्या है कोरोनावायरस से बचने का उपाय What is the way to avoid coronavirus

  • कोरोनावायरस से बचना है तो दिन में कई बार साबुन से हाथों की सफाई करें. ं.
  • अपने हाथों बिना साफ किए आंख, नाक व मुंह पर बार-बार न ले जाएं. - शरीर की इम्युनिटी सिस्टम को सही बनाएं रखने के लिए पोष्टिक चीजों का नियमित सेवन करें.
  • जिन्हें खांसी व सर्दी है. वे खांसते या छींकते वक्त अपने मुंह और नाक को कपड़े, रूमाल, टावेल आदि से अच्छी से ढक लें. .
  • सर्दी, खांसी, बुखार जैसे लक्षण दिखाई देने पर गूगल पर सर्च कर खुद डाक्टर बनने की बजाएं डॉक्टर के पास जाएं.
  • किसी को सांस लेने में तकलीफ दिखाई देने पर रोगी के पास जाने से बचें, बच्चों व बजुर्गो का उनसे दूर रखें. रोगी की सेवा करने वाला अपनी सेफ्टी का ध्यान रखें.
  • घर या आसपास कोरोनावायरस से संक्रमित व्यक्ति मिलने पर उसे जल्दी से अस्पताल ले जानें की व्यवस्था करें. लोगों को रोगी से दूर रहने के लिए कहें. अपने पालतू जानवरों को उससे दूर कर दें. जंगली जानवरों के सम्पर्क में ना आएं. .
  • नियमित रूप से साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दें. साथ ही मास्क और दस्ताने को इस्तेमाल करें.
  • कच्चे मांस, सीफूड, चिकन आदि खाने से दूर रहे. .
  • खांसी, सर्दी, बुखार आने पर कहीं जाने का प्रोग्राम होने उसे रोक दें. यात्रा करने पर रास्ते में परेशानी बढ़ सकती है. साथ ही अन्य लोग भी इसकी चपेट में आ सकते हैं.
  • दुर्भाग्यवश रोगी की मृत्यु हो जाने पर उससे लिपट कर शोक ना मनाएं. जल्दी से अंतिम संस्कार की व्यवस्था करें.

इस वेबसाइट पर भी विजिट करें – Business Maantra



Web Title : Coronavirus Status India Hindi

फ्रेंड्स, Coronavirus Status India Hindi - पोस्ट आपको जरूर पसंद आया होगा। आर्टिकल पसंद आने पर इंतजार ना करें, कॉपी करें और जल्दी से अपने फ्रेंड्स या पार्टनर को FacebooklinkedinTwitterpinterestTumblrSkypeInstragram, WhatsApp शेयर करें।

इन्हें भी जरूर पढ़ें –

Post a Comment

0 Comments